अतीत के अनुभव, वर्तमान की चुनौतियों तथा भविष्य की आवश्यकताओं को ध्यान में रखकर गढ़ी गई राष्ट्रीय शिक्षा नीति : डी. रामकृष्ण राव

विद्या भारती अखिल भारतीय शिक्षा संस्थान के अखिल भारतीय अध्यक्ष श्री डी० रामकृष्ण राव जी का प्रेस वक्तव्य छ: वर्ष तक शिक्षाविदों, बुद्धिजीवियों, विचारकों, शैक्षिक…

पाती बिटिया के नाम-7 (लक्ष्मीबाई या दुर्गा)

– डॉ विकास दवे प्रिय बिटिया, नन्ही सी मनु कच्छ लगाए जब मैदान में तलवार घुमाती थी तो बड़ा मनोहारी दृश्य उपस्थित हो जाता था।…

शब्द सामर्थ्य-13,प

शब्द अर्थ प पंचगव्य गौ से प्राप्त पांच वस्तुएं पंचक पांच का समूह पटू कुशल / निपुण पतनोन्मुख पतन की ओर झुकाव पथ्य उपयुक्त आहार…

भारतीय संस्कृति और जीवन मूल्यों की शिक्षा के प्रवर्तक – गोस्वामी तुलसीदास

 – अरुण मिश्र भारतीय संस्कृति विश्व की प्राचीनतम संस्कृतियों में से एक है। अपने उदात्त जीवन मूल्यों और ‘वसुधैव कुटुम्बकम’ जैसे आदर्शों के चलते समूचा…

तुलसीदास जी का शिक्षा दर्शन – 27 जुलाई जयंती विशेष

– प्रोफेसर बाबुराम शिक्षा मानव जीवन के चरित्र निर्माण, रुचियों, प्रवृत्तियों, चेष्टाओं में बदलाव और बहुआयामी विकास के साथ सामाजिक समरसता उत्पन्न करती है। इसीलिए…

बच्चों को सुनाएँ ‘कारगिल के हीरो’ की कहानियां

लेख  – विजय नड्डा   युद्ध में प्रत्येक सैनिक हीरो होता है। युद्ध की जीत में सामान्य समाज से लेकर राजनीतिक, प्रशासनिक व सैन्य नेतृत्व…

भारतीय शिक्षा – ज्ञान की बात-13 (करणों की सक्रियता)

 – वासुदेव प्रजापति ज्ञानार्जन के सभी करण जन्म से ही हमें मिल तो जाते हैं, परन्तु जन्म से ये सभी करण सक्रिय नहीं होते, अक्रिय…

शब्द सामर्थ्य-12,ध, न

शब्द अर्थ ध धकापेल बिना सोचे कम निपटाना धन्य सुकृती, प्रशंसा योग्य धर्ता धारण करने वाला धवलिमा उजलापन धारणा बात मन में लगातार रखना धुरन्दर…

શિક્ષકનો અભિગમ

 – ભાણદેવજી • એ દિવસોમાં હું શ્રી અરવિંદ આશ્રમ, પોંડિચેરીમાં રહેતો હતો. નિત્યના ક્રમ પ્રમાણે સાંજના ભોજન પછી સમુદ્રકિનારે ફરવા ગયો હતો. એકલો જ કિનારે…

बालकों के लिए उपयोगी – आपके घर में ऐसा है क्या?

 – दिलीप वसंत बेतकेकर आज के घर सामानों के ‘भंडारगृह’ हो गए हैं। जगह की कमी, फिर भी फर्श से छत तक विविध वस्तुओं का…