भारतीय संविधान में वर्णित मौलिक कर्तव्य – भाग एक

✍ डॉ. कुलदीप मेहंदीरत्ता यह मानव की प्रकृति है कि हम सब को अधिक से अधिक अधिकारों की प्राप्ति अच्छी लगती है। अधिकार सामान्यतया उन…

विस्मृति की परत हटाने वाले विपिनचन्द्र पाल

✍ कल्याण चक्रवर्ती और अरित्र घोष दस्तिदार राष्ट्रीय पुनर्जागरण की एक प्रवृत्ति साहित्य आश्रयी, इसे ‘भावसर्वस्व धारा’ कहते हैं। जबकि कई विचारकों ने इस विचार…

जन गण मन

✍ गोपाल माहेश्वरी “जन गण मन अधिनायक जय है भारत भाग्यविधाता” भारत का राष्ट्रगान, सामूहिक स्वरों में यह गीत वातावरण में एक विशेष चेतना भर…

सोशल मीडिया का आहार-विहार पर प्रभाव

✍ रवि कुमार बालक के पालन-पोषण में माँ की भूमिका व जिम्मेदारी महत्वपूर्ण होती है। और माँ इस भूमिका व जिम्मेदारी को पूर्ण करने में…

A Few Pedagogical Changes Focused in National Education Policy 2020

✍ A. Laxmana Rao The National Education Policy 2020 envisions as Bharat Centered Education system to transform our nation sustainably into an equitable and vibrant…

शिशु शिक्षा 34 – अनौपचारिक व औपचारिक शिक्षा

✍ नम्रता दत्त   हमने शिशु शिक्षा की यह श्रृंखला 0 (शून्य) से  प्रारम्भ की थी और अब इस सोपान से हम 3 वर्ष के…

Scientific, spiritual and religious festivity of Makar Sankranti

✍ Vinod Johri Makar Sankranti is an auspicious day in Bhartiya culture and is dedicated to the almighty Surya Bhagwan. Makar Sankranti is a festival…

मकर संक्रांति का वैज्ञानिक महत्व

✍ विनोद जोहरी संक्रान्ति का अर्थ है, ‘सूर्य का एक राशि से दूसरी राशि में संक्रमण (जाना)’। एक संक्रांति से दूसरी संक्रांति के बीच का समय ही…

आचार्य विनोबा भावे और उनकी शिक्षक दृष्टि

✍ सचिन अरुण जोशी आचार्य विनोबा भावे एक ऋषितुल्य व्यक्तित्व। केवल चिंतन ही नहीं अपितु चिंतनाधारित कृति ऐसी उनकी प्रगल्भता थी। विनोबाजी मूलतः महाराष्ट्र से…

भारतीय शिक्षा – ज्ञान की बात 73 (भारतीय शिक्षा और अंग्रेजी षडयंत्र)

 ✍ वासुदेव प्रजापति “ज्ञान की बात” राष्ट्रीय शिक्षा डॉटकॉम पर प्रसारित होने वाला एक पाक्षिक स्तम्भ है। इसमें भारतीय शिक्षा  की मूलभूत अवधारणाओं को स्पष्ट…