भारतीय भाषाओं (तमिल और तेलुगु) का स्वतंत्रता संग्राम में योगदान – 1

 – डॉ. कुलदीप मेहंदीरत्ता भारत विविधताओं से भरा एक विशाल राष्ट्र है जहाँ भले ही भौगोलिक अथवा प्रयोज्य क्षेत्र के आधार पर शाब्दिक तथा भाषिक…

1857 की क्रांति का शंखनाद

 – रवि कुमार देश की स्वतंत्रता के लिए एक साथ, एक समय प्रारम्भ होने वाली क्रांति का शंखनाद कैसे हुआ होगा? 31 मई 1857 के…

लाला लाजपत राय का भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में योगदान

 – डॉ कुलदीप मेहंदीरत्ता पंजाब केसरी और शेर-ए-पंजाब के नाम से विख्यात लाला लाजपत राय भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के अग्रणी सेनानियों में थे जिन्होंने व्यक्तिगत…

स्वतंत्रता संग्राम और बिरसा मुंडा का बलिदान

 – मनोज कुमार 15 नवंबर 1857 को उलीहातू गांव (आज के खूंटी जिले) के अंतर्गत जन्म के उपरांत पूजा पाठ की विधि के पश्चात जब…

भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के महानायक विनायक दामोदर सावरकर

 – रत्नचंद सरदाना भारतीय स्वतन्त्रता संग्राम के देदीप्यमान नक्षत्र विनायक दामोदर का पुण्य स्मरण करते हुए शीश स्वत: ही श्रद्धानत हो जाता है। उनकी असंदिग्ध…

स्वतंत्रता आन्दोलन का जयघोष मंत्र वंदेमातरम्

-रवि कुमार स्वतंत्रता अमूल्य है और यह हमें अनथक प्रयासों के कारण मिली है। हमारी स्वतंत्रता के लिए हमारे पूर्वजों ने अपने जीवन का बलिदान…

1857 की क्रांति : एक सुनियोजित स्वातन्त्र्य संग्राम

 – रवि कुमार भारत की स्वतंत्रता की चर्चा जब होती है तो ध्यान आता है उन क्रान्तिकारियों का, जिन्होंने स्वतंत्रता की बलि वेदी पर अपने…

भारतीय स्वतंत्रता आन्दोलन में मील का पत्थर सिद्ध हुआ बंग-भंग आंदोलन

 – डॉ. रमेश कुमार भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन एक दीर्घावधि तक चला एक बहुपक्षीय एवं बहुआयामी आंदोलन था। इस आंदोलन का नेतृत्व भिन्न-भिन्न विचारधाराओं के व्यक्ति…

 சுதந்திரப் போராட்டமும்    சுப்பிரமணிய சிவாவும்

 – கனிராஜன் மதுரை மாவட்டம் கொடைக்கானல் மலையடிவாரம் வத்தலகுண்டு கிராமம். நடுத்தர குடும்பத் தலைவரான ராஜம் ஐயர் அவரது மனைவி நாகம்மாளுடன் வாழ்ந்து வந்தார். ஒருமுறை  தனது கணவர்  வெளியூர் சென்று விட்டதால் நாகம்மாள்…

SUBRAMANIYA SIVAM – A fierce patriot who shook the British imperialistic hegemony

 – Shivakumar “SERVICE TO NATION IS SERVICE TO GOD. “MY RELIGION IS BHARATHEEYAM, MY DEITY IS BHARATH MATHA, MY DHARMA IS TO PREACH SATYA AND…