बचपन से सिखाएं संयम और जीवन मूल्य

-अवनीश भटनागर ‘संयममय जीवन हो’ – यह गीत अनुप्राणित करता है, प्रेरणा देता है, जीवन की दृष्टि देता है । परन्तु जरा निष्पक्ष आत्म समीक्षा…

बाल केन्द्रित क्रिया आधारित शिक्षा – 3 (मनोविज्ञान)

–  रवि कुमार गतांक में हमने बाल केन्द्रित शिक्षा की विस्तार से चर्चा की थी । इस अंक में मनोविज्ञान पर विचार करेंगे । भारतीय…

आपका बच्चा खेलता कब है?

–  अरविंद कुमार “पढ़ोगे लिखोगे, बनोगे नवाब । खेलोगे कूदोगे, बनोगे खराब ।।” कहावत आपने जरूर सुनी होगी । इस कहावत का सीधा-सा मतलब यह…

The role of Teacher in 21st century

–  Tapan Kumar In the fast changing world of the early 21st century concept of public education, school education is also changing. As part of…

स्तनपान बच्चे के अलावा माँ के लिए भी वरदान

–  आभा जैन  माँ का दूध ऐसी बहुमूल्य संपदा है, जिससे समाज का कोई वर्ग वंचित नही हो सकता है । बच्चे के लिए माँ…

मातृभाषा – बुद्धि विस्तार का एक मात्र साधन

‘‘मैं अच्छा वैज्ञानिक इसलिए बना, क्योंकि मैंने गणित और विज्ञान की शिक्षा मातृभाषा में प्राप्त की । (धरमपेठ कॉलेज नागपुर) – डॉ अब्दुल कलाम भाषा,…

भारत की शिक्षा कैसी हो…

 

अभिनव प्रयोग से समृद्धि का सफर

लखीमपुर खीरी। आज भले ही इंटरनेट का दौर है। पुस्तकालयों के प्रति लोगों का आकर्षण कम हो रहा है। लोग घंटों कंप्यूटर और टीवी से…

हम यहाँ बैठे है तो एकल विद्यालय के कारण बैठे है।

आर्यन बेल्ट, कारगिल।जम्मू कश्मीर के दूरस्थ व सीमावर्ती क्षेत्रों की शिक्षा के लिए मील का पत्थर बने है एकल विद्यालय।इस कार्य की संभाल की दृष्टि…

गीतों के जरिए छात्रों को गणित के पहाड़े याद करवाते हैं टीचर्स, टॉप करवाने की गारंटी

कैथल: जिले के एक शिक्षक ने सरकारी स्कूलों में शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए गीतों और खेलों के माध्यम से बच्चों को पढ़ाने का…