बाल केन्द्रित क्रिया आधारित शिक्षा-26 (कौशल विकास)

 – रवि कुमार एक नवयुवक स्नातक पूर्ण कर आजीविका के लिए किसी के पास जाता है और नौकरी के लिए पूछता है। सामने वाला प्रश्न…

बाल शिक्षा शास्त्री गिजुभाई बधेका – 15 नवंबर जयंती विशेष

– डॉ. नीतिन पेथाणी गिजुभाई बधेका को गुजरात में ‘मूछालीमाँ’ अर्थात ‘मूछोंवाली माँ’ के नाम से जाना जाता है। शिशु व बाल शिक्षा के संबंध…

बाल केंद्रित क्रिया आधारित शिक्षा-20 (संगीत शिक्षा)

संगीत का जीवन में विशेष महत्व है। फ़ाइन आर्ट शब्द हमने सुना होगा। फ़ाइन आर्ट में तीन विषय आते है – कला, संगीत और साहित्य।…

बाल केन्द्रित क्रिया आधारित शिक्षा-17 (भाषा कौशल में श्रवण, कथन व वाचन)

यदि यह पूछा जाए कि बालक सबसे पहले क्या बोलना सीखता है, तो उत्तर आएगा ‘माँ’ बोलना। बालक ‘माँ’ बोलना नहीं सीखता, वह अनुकरण करता…

बाल केन्द्रित क्रिया आधारित शिक्षा -10 (सद्गुण एवं सदाचार की शिक्षा)

भाव आधारित शिक्षा के साथ जुड़ी है सद्गुण एवं सदाचार की शिक्षा । इसका सम्बन्ध मन से है और इसे ही नैतिक शिक्षा कहते हैं…

बाल केन्द्रित क्रिया आधारित शिक्षा – 8 (करणों का विकास)

 – रवि कुमार बालक के सर्वांगीण विकास की दृष्टि से करणों का विकास महत्त्वपूर्ण है । करण दो प्रकार के हैं – एक अन्तःकरण तथा…

बाल केन्द्रित क्रिया आधारित शिक्षा -7 (एकाग्रता)

गत अंक में हमने ‘कक्षाकक्ष में नवाचार’ विषय पर विचार किया था । इस अंक में हम एकाग्रता के विषय पर चर्चा करेंगे । एक…

बाल केन्द्रित क्रिया आधारित शिक्षण-5 (Nothing can be taught)

एक स्थान पर अध्यापकों से चर्चा हुई । श्यामपट्ट पर दो वाक्य लिखे – Nothing can be taught. Everything must be taught. इन दो वाक्यों…