अभिनव प्रयोग से समृद्धि का सफर


लखीमपुर खीरी। आज भले ही इंटरनेट का दौर है। पुस्तकालयों के प्रति लोगों का आकर्षण कम हो रहा है। लोग घंटों कंप्यूटर और टीवी से चिपके रहते हैं। ऐसे में राजकीय पुस्तकालय अध्यक्ष संजय कुमार साह ने अपने अभिनव प्रयोगों से इस लाइब्रेरी को प्रदेश में नंबर एक की श्रेणी में खड़ा कर दिया है। यही वजह है कि अमेरिका की संस्था मिलिंडा बिल गेट्स फाउंडेशन की नजर इस लाइब्रेरी पर पड़ी है। मिलिंडा बिल गेट्स फाउंडेशन ने उत्तर प्रदेश में इस लाइब्रेरी को सहायता देने के लिए चयनित किया है।

इस लाइब्रेरी के संचालक संजय कुमार साह इसकी पाठक संख्या बढ़ाने के लिए नित नए प्रयोग कर रहे हैं। उनके अभिनव प्रयोगों का ही नतीजा है इस लाइब्रेरी के हजारों की संख्या में नियमित पाठक हैं। पिछले महीने उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों के तीन हजार बच्चों को एक साथ पुस्तकें पढ़वाईं। विद्यालयों में घूम-घूम कर वे विद्यार्थियों को लाइब्रेरी की पुस्तकें पढ़ने के लिए प्रेरित करते हैं। उनके इन प्रयासों ने जिले की लाइब्रेरी को प्रदेश में नंबर एक पर लाकर खड़ा कर दिया है। यहां की लाइब्रेरी के कार्यों की खबर अमेरिका संस्था मिलिंडा बिल गेट्स फउडेशन तक पहुंच गई है। मिलिंडा बिल गेट्स फाउडेशन ने इस लाइब्रेरी का चयन सहायता देने के लिए किया है।

मिलिंड बिलगेट्स फाउंडेशन ने मांगे प्रस्ताव अमेरिका की संस्था मिलिंडा बिलगेटस फाउंडेशन ने प्रदेश में लखीमपुर की लाइब्रेरी का चयन सहायता देने के लिए किया है। इस लाइब्रेरी को समृद्ध बनाने के लिए बिल गेटस फाउंडेशन ने स्वयं सेवी संस्था प्रथम के माध्यम से राजकीय पुस्तकालय अध्यक्ष संजय कुमार साह से लाइब्रेरी को समृद्ध बनाने के लिए प्रस्ताव मांगा है। संस्था प्रथम के लोग लाइब्रेरी आकर पूरी रिपोर्ट बनाकर ले गए हैं इसे बिल गेट्स फाउंडेशन को भेजेगें।

यह दिए प्रस्ताव जिला पुस्ताकालयध्यक्ष संजयकुमार साह ने लाइब्रेरी को समृद्ध बनाने के साथ यहां के लोगों को विभिन्न भाषाएं सिखाने के लिए लैंग्वेज लर्निंग लैबोरेटरी लैब, इनफारमेशन लिटरेसी लैब बनाने के अलावा मोबाइल वैन के माध्यम से जिले के विभिन्न कस्बों, तहसील और ब्लाक मुख्यालयों पर लोगों को पुस्तकें पढ़ाने की व्यवस्था करने का प्रस्ताव किया है। यह प्रस्ताव मिलिंडा बिल गेट्स फाउडेंशन को भेज दिए गए हैं।
साभार अमरउजाला

Facebook Comments