शब्द सामर्थ्य-7 घ, च

शब्द

अर्थ

घनिष्ठ बहुत घना
घुसर-पुसर कानाफूसी
घाऊघप चोरी से सब हड़पने वाला
घोषण घोषणा करना
घामड़ आलसी,मूर्ख
घ्राण सूंघना

चंगुल पकड़
चंडालत्व नीचता
चकल्लस परिहास, झगड़ा
चटुल चपल,सुंदर
चतुर्विध चार प्रकार से
चमत्कारिक चमत्कार पूर्ण
चयित चयनित
चरितार्थ पूरा उतरना
चलायमान चंचल
चाटुकार खुशामदी
चापल्य चपलता
चार्चिक चर्चा में कुशल
चिकीर्षा कार्य करने की इच्छा
चित्तोद्रेक अभिमान
चिरन्तन बहुत पुराना
चिरनिद्रा मृत्यु
चिल्लिका भौहों के मध्य का स्थान
चुनिंदा चुना हुआ
चौर्य-वृत्ति चोरी का स्वभाव
चंचुप्रवेश किसी विषय का प्रारंभिक ज्ञान
चकपकाना भौंचक्का होना
चक्रक्रम घटनाओं का बार बार होना
चतुर्गुण चौगुना
चपल अस्थिर
चमत्कृत चकित
चरम आखिरी
चर्चित चर्चा में
चश्मदीद प्रत्यक्षदर्शी
चातुर चापलूस
चारित्र्य आचार- विचार
चिंताकुल चिंता से व्याकुल
चित्तविद दूसरों के मन की बात जाननेवाला
चित्रोक्ति अलंकृत भाषा में कही बात
चिरकालिक लम्बे समय से विद्यमान
चिर-नूतन लम्बे समय तक नया रहने वाला
चुटीला चुभनेवाला
चुहल ठिठोली
च्युति पतन
चंडवृत्ति विद्रोही स्वभाव
चकमा मूर्ख बनाना
चक्षुर्विषय आँख से दिखने वाले पदार्थ
चतुर्दिक चारों दिशाओं से
चपला बिजली, लक्ष्मी
चयनीय चुने जाने योग्य
चरितव्य आचरण किये जाने योग्य
चलमित्र अवसरानुकूल मित्र
चाक्षुष नेत्र-सम्बन्धी
चातुर्यपूर्ण चालाकी से भरा
चारुशील उत्तम स्वभाव वाला
चिंत्य विचारणीय
चित्तवृति मन की गति
चिन्मय ज्ञानमय
चिरजीवी दीर्घायु
चिर-स्थायी लम्बे समय तक विद्यमान रहने वाला
चुनांचे इसलिए
चौक्ष लुभावना

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *