शब्द सामर्थ्य-13,प


शब्द

अर्थ

पंचगव्य गौ से प्राप्त पांच वस्तुएं
पंचक पांच का समूह
पटू कुशल / निपुण
पतनोन्मुख पतन की ओर झुकाव
पथ्य उपयुक्त आहार
पदावली शब्द-समूह
परवर्ती बाद वाला
पराभव पराजय / हार
परिक्रमण चक्कर लगाना / चारों और घूमना
परिचायक सूचक
परिणत परिणाम के रूप में प्रकट नया रूप
परिनिष्ठित पूरी तरह निपुण
परिपूर्ण जिसमें कमी न रह गयी हो
परिवर्धन अच्छी तरह बढ़ना/ बढ़ाया जाना
परिस्फुट पूर्णत: विकसित
पल्लवित समृद्ध
पाथेय रास्ते का भोजन (साथ लेकर)
पारमार्थिक परम अर्थ / आध्यात्मिक कल्याण से जुड़ा
पार्थक्य अलगाव
पीठिका चौकी
पुनरुक्ति दोबारा कही बात
पूज्यपाद जिसके चरण पूजा करने योग्य हों
पूर्ववर्ती पहले का
पृथु चतुर, विस्तृत , यशस्वी
पोष्य पोषण करने योग्य
प्रकारान्तर दूसरा प्रकार / तरीका
प्रकृष्ट उत्कृष्ट / खींच कर बढाया हुआ
प्रगीत जिसे सुर से गाया जा सके
प्रणत नम्र
प्रतिकृति अनुकरण, प्रतिबिम्ब
पंचभूत पांच भौतिक तत्त्व जिनसे जगत की रचना हुई
पंजिका रजिस्टर /पंचांग
पठनीय पढने योग्य
पतित गिरा हुआ / जो  सम्मान खो चुका हो
पद-च्युत जिसे पद से हटा दिया हो
परम्परागत परम्परा से चला आ रहा
परहित दूसरों का हित
परायण तत्पर/ प्रवृत्त
परिक्रमा मन्दिर / तीर्थ के चारों और चक्कर लगाना/ मार्ग
परिच्छद आवरण
परिणति परिणाम / अंत
परिपाक अच्छी तरह पक जाना
परिमार्जन त्रुटि दूर कर सुंदर रूप देना
परिशीलन गम्भीर अध्ययन
पर्यन्त तक
पहलू पार्श्व
पायक सेवक
पार्थिव मिट्टी का शिवलिंग / पृथ्वी का
पिपासा तीव्र इच्छा
पुंगव उत्तम / श्रेष्ठ
पुनरुत्थान फिर से ऊपर उठाना
पूत पुत्र , पवित्र
पूर्वापर आगे और पीछे का / क्रमिक
पृष्ठपोषक सहायक / समर्थक
पौरुष पुरुषत्व
प्रकीर्ण मिला-जुला
प्रक्षिप्त बाद में जोड़ा हुआ
प्रच्छन्न अप्रत्यक्ष / छिपा हुआ
प्रणति प्रणाम
प्रतिपादन नया मत प्रस्तुत करना
प्रतीची पश्चिम
प्रत्यावर्त्तन दोबारा घटित होना
प्रदोष संध्या , बड़ा दोष
प्रबोधन जगाना
प्रलाप निरर्थक बातचीत
प्रवेशिका प्रारम्भिक ज्ञान करने वाली पुस्तक
प्रस्फुटन विकसित होना
प्राचुर्य बहुतायत
प्रादुर्भाव उत्पत्ति
प्रामाणिक सच्चा  / सही
पंचशील बौद्ध धर्म के अनुसार सदाचार के सिद्धांत
पटाक्षेप कार्य समाप्ति / पर्दा गिराना
पण्य माल / सौदा
पत्तन बन्दरगाह पर बसा नगर
पदार्पण प्रवेश
परम्परित जो परम्परा का रूप ले चुका हो
पराकाष्ठा चरम सीमा
पराश्रय पराधीनता
परिग्रह पूरी तरह ग्रहण करना
परिच्छेद लेख का बड़ा अंश
परितोष पूरा संतोष
परिपालन अच्छे से पालन करना
परिमित नपा-तुला
परिष्कार सजाना ,संवारना
पर्यवलोकन अच्छे से जाँच परख करना
पांडित्य विद्वता
पारंगत विद्वान / निष्णात
पारिभाषिक परिभाषा से सम्बन्धित
पारायण आद्यन्त पाठ
पुनरावृत्ति दोहराना
पुष्कल प्रचुर / अत्यधिक
पूर्वपीठिका पहले से की गयी तैयारी / भूमिका
पूर्वोक्त जिसकी चर्चा पहले की हो
पोशीदा गुप्त
पौरुषेय मनुष्य का बनाया हुआ
प्रकृत्या प्रकृति से
प्रगल्भ चतुर , ढीठ , निडर ,
प्रज्ञ विद्वान
प्रणयन निर्माण / रचना
प्रतिमान मानदंड, उदाहरण
प्रतीति ज्ञान / निश्चय
प्रत्युत इसके विपरीत / अपितु
प्रपत्ति अनन्य भक्ति
प्रभूत अत्यधिक
प्रवंचना धोखा
प्रव्राजक संन्यासी
प्रांजल स्वच्छ और शुद्ध भाषा
प्राच्य पूर्व
प्राधान्य प्रभुत्व / श्रेष्ठता
प्रासंगिक प्रसंग के अनुरूप

और पढ़ें : शब्द सामर्थ्य-12,ध, न

Facebook Comments