शिशु शिक्षा – 3 (जीवन विकास की मनोवैज्ञानिक प्रक्रिया)

 – नम्रता दत्त शिशु शिक्षा की इस श्रृंखला में हम मनोविज्ञान के आधार पर जीवन के विकास की यात्रा पर विचार एवं चिन्तन करेंगे। यह…

बच्चों के सिर से भय का भूत हटाएं

 – दिलीप वसंत बेतकेकर श्रुति छह माह की बालिका, फर्श पर खेल रही थी। निकट की स्टूल पर मिक्सर चल रहा था। धक्का लगा और…

अखण्ड भारत का संकल्प और स्वतंत्रता का सही अर्थ

– रवि कुमार 15 अगस्त का दिन कहता आजादी अभी अधूरी है। सपने सच होने बाकी है रावी की शपथ न पूरी है।। उपरोक्त पंक्तियां…

संत श्रेष्ठ ज्ञानेश्वर महाराज – 12 अगस्त जयंती विशेष

 – डॉ० आशीष पुराणिक 15 वर्ष का छोटा बालक पैठण धर्मपीठ को नम्रता से प्रश्न करता है, “आपके अन्नमय शरीर से मेरे अन्नमय शरीर को…

भारतीय शिक्षा – ज्ञान की बात-12 (करणों का विकास)

-वासुदेव प्रजापति ज्ञानार्जन के करणों में हमने बहि:करण एवं अन्त:करण को जाना। बहि:करण में कर्मेन्द्रियों व ज्ञानेन्द्रियों के कार्यों को समझा और अन्त:करण में मन,…

शब्द सामर्थ्य-2 (आ)

शब्द अर्थ आकुंचन सिकुड़ना आक्रोश क्रोध आगम भविष्य,शास्त्र आजानु-बाहु घुटनों तक लंबी बाजू वाला आतप धूप आत्म-श्लाघा आत्म-प्रशंसा आत्ययिक हानिकारक आद्याक्षर पहला अक्षर आनत झुका…

Making Your Study Interesting

 – Arvind Kumar If you dive deeper in the meaning of the word, ‘student’ means in Latin – ‘eager to know’. But today, student has…

Making the Education Nation- Centric

On the occasion of the 150th birth anniversary of Swami Vivekananda being celebrated all over the country and the World, it is the high time…

विद्यार्थी जीवन एक आदर्श जीवन कैसे बने?

सुखार्थीः चेत् त्यजेत् विद्याम् विद्यार्थीः चेत् त्यजेत् सुखम् ॥ अर्थात् यदि सुख की कामना है तो विद्या की आशा छोड़ दें और यदि विद्या की कामना…

शिक्षा का वर्तमान स्वरूप : भौतिक व व्यक्ति केन्द्रित

शिक्षा की प्रक्रिया के माध्यम से ही मानव शिशु का शारीरिक, मानसिक, बौद्धिक, नैतिक एवं आध्यात्मिक विकास होकर वह समाज में उपयुक्त स्थान ग्रहण करता…